आप शायद घर से काम करने और कार्यालय से काम करने की अवधारणाओं से परिचित हैं, लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि डब्ल्यूएफसी क्या है?

पढ़कर शायद आपको लगे कि कहीं माइक्रोसॉफ्ट कोई कार लेकर आ रही या फिर कोई आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से जुड़ा नया प्रोडक्ट लॉन्च होने जा रहा है, तो ऐसा नहीं है. बल्कि कंपनी वीडियो कॉन्फ्रेंस के लिए नया टूल लेकर आ रही है जो कार में चलेगा.

1704964855560 microsoft

जैसे शब्दों के बारे में आपने सुना ही होगा. कोरोना के बाद से WFH तो जुबान पर या कहें लैपटॉप पर ऐसा चढ़ा कि आज भी उतरने का नाम नहीं ले रहा. लेकिन क्या आपने WFC के बारे में सुना है? एकदम नया शब्द और नया कान्सेप्ट है. कमाल बात ये है कि इसे सोशल मीडिया के धुरंधरों ने नहीं बल्कि टेक जगत की दिग्गज कंपनी Microsoft ने ईजाद किया है. कंपनी रिमोट वर्क के लिए नया टूल लेकर आई है. नाम है

अब Work From Car पढ़कर शायद आपको लगे कि कहीं माइक्रोसॉफ्ट कोई कार लेकर आ रही या फिर कोई आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से जुड़ा नया प्रोडक्ट लॉन्च होने जा रहा है, तो ऐसा नहीं है. बल्कि कंपनी वीडियो कॉन्फ्रेंस के लिए नया टूल लेकर आ रही है, जो कार में चलेगा.माइक्रोसॉफ्ट+एंड्रॉयड ऑटो= वर्क फ्रॉम कार

माइक्रोसॉफ्ट का वीडियो कॉलिंग के लिए एक प्रोडक्ट है Teams. गूगल मीट और जूम के जैसे. हालांकि, जहां गूगल मीट और जूम का इस्तेमाल आम यूजर्स से लेकर कंपनियों में होता है, वहीं Teams एक ऑर्गेनाइजेशन बेस्ड प्रोडक्ट है. काम इसमें भी वही होता है. मतलब वीडियो कॉलिंग से लेकर ऐप के अंदर चैटिंग, फ़ाइल शेयर इत्यादि अनादि

microsoft teams logo png 480 480

एंड्रॉयड ऑटो मतलब गूगल का डेवलप किया प्लेटफॉर्म जो आपके स्मार्टफोन को कार से कनेक्ट करता है. कार से या कहें कार में लगी स्क्रीन से. आम भाषा में कहें तो इन्फोटेन्मेंट सिस्टम. एंड्रॉयड स्मार्टफोन के ऐप्स को मिरर करके कार में चलाने का बढ़िया जुगाड़. इसमें कई सारे फीचर्स होते हैं, मसलन कॉल से लेकर मैसेज को साइलेंट किया जा सकता है. गूगल मैप्स को बड़ी स्क्रीन पर चला सकते हैं. आदि-आदि.

WFC: माइक्रोसॉफ्ट ने इसके लिए एक नया टूल डेवलप किया है. टूल जो Teams में ही जुड़ा होगा. माइक्रोसॉफ्ट ने इसकी घोषणा गूगल की 2023 की सालाना डेवलपर कॉन्फ्रेंस में की थी. Teams का नया टूल कार की स्क्रीन पर काम करेगा. क्विक कॉल फीचर से स्पीड डायल जैसा अनुभव मिलेगा. कैलेंडर एक्सेस से मीटिंग शेड्यूल हो सकेंगी.

कहने का मतलब कार में लैपटॉप निकालने की जरूरत ही नहीं. बस डैशबोर्ड पर लगी स्क्रीन ही काफी है. कंपनी ने अमेरिका के लास वेगास में चल रहे Consumer Electronics Show (CES-24) में इससे पर्दा उठाया है और इसे WFC नाम दिया है. अभी इसके बाकी फीचर्स से पर्दा उठना बाकी है.

फीचर जब आएगा तब की तब देखेंगे, मगर WFC नाम बड़ा कूल है. जो आपका बॉस अगली बार WFH देने में आनाकानी करे तो कहना WFC दे दो यार. आपके बॉस आप पर मेहरबान हो या नहीं, माइक्रोसॉफ्ट अपने एक पूर्व बॉस पर खूब मेहरबान है. कैसे यहां क्लिक कीजिए. पता चल जाएगा. 

Leave a comment