SA vs IND: क्या अब पिच पर नहीं उठेंगे सवाल?​ एक दिन में 23 विकेट गिरना कोई मजाक की बात तो नहीं

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच दूसरे टेस्ट के पहले दिन कुल 23 विकेट गिरे। मोहम्मद सिराज ने अपने टेस्ट करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए छह विकेट झटके। भारत ने एक भी रन जोड़े गंवाए छह विकेट खो दिए। न्यूलैंड्स में विकेटों की पतझड़ के बीच एडवांटेज टीम इंडिया के पास है।

ind vs sa pitch 106524761

केपटाउन: भारत और साउथ अफ्रीका के बीच साल 2024 का पहला टेस्ट विकेटों की पतझड़ के लिए लंबे समय तक याद किया जाएगा। न्यूलैंड्स में खेले गए इस सीरीज के दूसरे व अंतिम टेस्ट के पहले दिन कुल 23 विकेट गिरे। टॉस जीतकर पहले बैटिंग करने उतरी मेजबान टीम को भारत ने मोहम्मद सिराज (6/15) की करियर बेस्ट बोलिंग से 55 रन के टोटल पर समेट दिया। यह भारत के खिलाफ किसी भी टीम का लोएस्ट टेस्ट टोटल है। हालांकि, साउथ अफ्रीकी गेंदबाजों ने पलटवार करके मुकाबले को लगभग बराबरी पर ला खड़ा किया। एक समय मैच में बड़ी लीड बनाती दिख रही टीम इंडिया ने बिना रन जोड़े आखिर के छह विकेट गंवा दिए और वह 153 रन बनाकर सिर्फ 98 रन की ही लीड ले सकी। दिन का खेल खत्म होने तक साउथ अफ्रीका ने तीन विकेट पर 62 रन बना लिए थे और वह भारत से 36 रन पीछे था।

क्या अब पिच पर नहीं उठेंगे सवाल?
न्यूलैंड्स की पिच पर इतना तेज उछाल था जो निश्चित रूप से आईसीसी मैच रेफरी क्रिस ब्रॉड की निशाने पर आएगा। लाल कूकाबुरा गेंद ‘जंबो जेट’ की तरह उड़ान भरती दिखी जिससे बल्लेबाजों के लिये क्रीज पर टिकना असंभव हो गया। दिन के अंत में उछाल इतना ज्यादा बदल रहा था कि बल्लेबाजों को कंधे से लेकर पेट तक गेंद लगी।

वापसी के बाद लोएस्ट स्कोर
इससे पहले, बल्लेबाजी के लिए मुश्किल नजर आ रही पिच पर सिराज ने लगातार नौ ओवर के अपने पहले स्पैल में 15 रन देकर छह विकेट झटके। साउथ अफ्रीकी बल्लेबाज उनके पिच से हासिल किए गए असमान उछाल और मूवमेंट से निपटने में असफल रही। साउथ अफ्रीका का यह 1991 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी के बाद टेस्ट क्रिकेट में सबसे कम स्कोर है। सिराज से पहले देश के 92 वर्ष के टेस्ट इतिहास में लंच से पहले इस तरह का शानदार प्रदर्शन बायें हाथ के स्पिनर मनिंदर सिंह के नाम है जिन्होंने 1986-87 में बेंगलुरु में पाकिस्तान के खिलाफ लंच से पहले पांच विकेट झटकने की उपलब्धि हासिल की थी।

दोहरे अंक में केवल दो
बुधवार को उमस भरी सुबह साउथ अफ्रीकी बल्लेबाजों को सिराज की तेजी, स्विंग और सीम मूवमेंट का सामना करने में काफी परेशानी हुई जिससे पूरी टीम पहली पारी में महज 23.2 ओवर्स में पविलियन पहुंच गई। केवल डेविड बेडिंघम (12) और काइल वेरेन (15) ही दो बल्लेबाज रहे जो दोहरे अंक तक पहुंच सके जिससे स्टैंड में मौजूद साउथ अफ्रीकी दर्शक मायूस हो गए। सिराज ने नौ ओवर में तीन मेडन डाले। जसप्रीत बुमराह ने भी दूसरे छोर से दबाव बनाए रखा जिससे रोहित ने भी प्रतिद्वंद्वी टीम के कप्तान डीन एल्गर को उनके विदाई टेस्ट में परेशान रखने में कोई कसर नहीं छोड़ी। मुकेश कुमार (बिना रन दिए दो विकेट) ने पुछल्ले बल्लेबाजों को समेटा।

04 01 2024 test match ind vs sa 23620640

Leave a comment